Kisse Kahani

story time

Taimur Lang

18 फ़रवरी 1405 वो दिन जब पूरी दुनिया जीतने निकला आमिर तैमूर ख़ुद ज़िंदगी की जंग हार गया। मरते वक्त तैमूर ने कहा
“मेरे मरने पर कोई पागलों की तरह इधर उधर भागते हुए आंसू ना बहाए कपड़े ना फाड़े बल्कि मेरे लिए दुआ करे अल्लाह मेरे गुनाहों को माफ करे जो अनगिनत हैं।”

तैमूर के दुनिया जितने की इस सनक ने लाखों जाने ली थी दुनिया की 5% आबादी कम कर दी थी हालांकि वो सिकन्दर और चंगेज खान के बाद उस सदी का सबसे बड़ा योद्धा था। जिसने दुनिया का एक बड़े हिस्से पर फ़तह हासिल की थी। उस वक़्त दुनिया के सबसे अमीर शहर दिल्ली पर हमला करके खंडहर कर दिया था।

तैमूर ने हिदुस्तान, यूरोप से लेकर अरब तक हमला किया। बग़दाद और दमिश्क पर हमला कर के लाखों लोगो को मौत के घाट उतार दिया और कहा ये हज़रत अली के हत्यारों की क़ौम है हुसैन के हत्यारों की क़ौम है।

तैमूर पूरी ज़िंदगी जंग में रहा जब उसकी वफ़ात हुई तो वह चीन फ़तह करने निकला था जो अधूरा रह गया। तैमूर की मौत के बाद उसे “कस्तूरी और गुलाब जल से नहला कर एक आबनूस ताबूत में रख कर समरकंद भेजा गया, जहां तैमूर को दफन कर दिया गया।

Leave a Reply